जेबीसीसीआई 11: डिमांड पत्र में अटेंडेंस बोनस को 15 से घटाकर 10% करने पर रजामंदी

धनबाद3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • 4 सेंट्रल ट्रेड यूनियनों का फैसला

जेबीसीसीआई-11 के लिए तैयार किए गए काॅमन चार्टर्ड आफ डिमांड पर पुनर्विचार करने काे लेकर चार केंद्रीय ट्रेड यूनियनाें ने गुरुवार काे वर्चूअल मीटिंग की। दाे घंटे से तक चली बैठक में दाे जून काे तैयार किए गए काॅमन चार्टर्ड आफ डिमांड में बदलाव किए जाने पर सहमति बनी। बैठक काे काे-ऑर्डिनेट कर रहे बीएमएस के सुरेंद्र कुमार पांडेय ने बताया कि अटेंडेंस बाेनस काे 15 प्रतिशत से घटा कर 10 प्रतिशत करने का प्रस्ताव पारित किया गया। 2 जून काे हुई बैठक में तैयार किए गए काॅमन चार्टर्ड आफ डिमांड में अटेंडेंस बाेनस 15 प्रतिशत रखा गया था।

आज की बैठक में इस पर गंभीरता से मंथन करने के बाद जेबीसीसीआई-10 की तरह 10 प्रतिशत ही रहने देने का निर्णय लिया गया। शेष सभी डिमांड काे यथावत रखा गया है। बैठक में बीएमएस के सुधीर घुरडे, एचएमएस से नाथूलाल पांडेय, एटक से रमेंद्र कुमार और सीटू के डीडी रामानंदन शामिल थे। पांडेय ने कहा कि डिमांड पत्र पर कल तक सभी का हस्ताक्षर हाे जाएगा। उसके बाद शीघ्र ही काेयला सचिव समेत काेल इंडिया चेयरमैन काे काॅमन चार्टर्ड आफ डिमांड भेज दिया जाएगा।

अटेंडेंस बाेनस काे ऐसे समझें

सुरेंद्र पांडेय के अनुसार अगर किसी काेल कर्मचारी का बेसिक 60,000 रुपए है ताे 15 प्रतिशत अटेंडेंस बाेनस की स्थिति में 3000 रुपए बाेनस बढ़ जरूर जाएगा, लेकिन बेसिक में 3000 रुपए की कमी हाे जाएगी। इससे नवीनतम संशाेधित बाेनस में 3000 रुपए का घाटा हाेगा। चूंकि बेसिक के अाधार पर ही पेंशन समेत अन्य की गणना हाेती है। इसलिए बेसिक का मजबूत हाेना जरूरी है। नवीनतम संशाेधित बेसिक में काेई कमी नहीं हाे, इसलिए अटेंडेंस बाेनस 15 से कम कर 10 प्रतिशत रहने देने का ही निर्णय लिया गया।

खबरें और भी हैं…

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *