बिहार में मौसम को लेकर 48 घंटे का अलर्ट जारी: दक्षिण पश्चिम में मानसून की स्थिति बनी, 16 जिलों में वज्रपात के साथ भारी बारिश के आसार

  • Hindi Information
  • Native
  • Bihar
  • Bihar Information; Climate Alert For 48 Hours In Bihar, Heavy Rain With Thunderstorms Anticipated In 16 Districts

पटना6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

चक्रवाती परिसंचरण के कारण बदल रहा मौसम का मिजाज

बिहार के दक्षिण पश्चिम में मानसून की अनुकूल स्थितियां बन रही हैं। मौसम विभाग ने इस बीच बिहार में हल्की मध्यम और भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है। राज्य के 16 जिलों में आकाशीय बिजली के साथ भारी बारिश का अलर्ट है जबकि 22 जिलों में मध्यम बारिश का अनुमान है। ऐसी स्थिति को लेकर मौसम विभाग ने पूरे बिहार में अगले 48 घंटे का अलर्ट जारी किया है।

मानसून आने की बन रही स्थिति

मानसून आने की स्थिति बन रही है। मौसम विभाग के मुताबिक बिहार के दक्षिण पश्चिम में मानसून की अनुकूल स्थितियां बन रही हैं। मौसम विभाग के मुताबिक मानसून 11 जून को ओडिशा और पश्चिम बंगाल में प्रवेश करेगा। जहां से 13 जून को झारखंड और फिर 15 जून तक बिहार पहुंचने की संभावना है। इस दौरान बारिश को लेकर पूरी तरह से बिहार में अलर्ट है। मौसम विभाग के मुताबिक 13 जून तक बिहार के 16 जिलों में भारी बारिश की संभावना है। पटना, नालंदा, नवादा सहित बिहार के अन्य हिस्सों में भी बारिश की संभावना बन रही है।

बारिश का यह बन रहा कारण

मौसम विभाग का कहना है कि चक्रवात परिसंचण बंगाल के उत्तर पश्चिमी खाड़ी पर स्थित है और वायुमंडल के मध्य फैला हुआ है। इसके प्रभाव से एक कम दबाव का क्षेत्र पश्चिमोत्तर बंगाल पर बन गया है। यह 24 घंटे में और घना हो जाएगा। उसके बाद यह पश्चिम उत्तर पश्विम की ओर बढ़ेगा। इसके अलावा एक ट्रफ रेखा पूर्वी उत्तर प्रदेश से बिहार तथा पश्विम बंगाल होते हुए बंगाल के पूर्वोत्तर खाड़ी तक फैली है। एक चक्रवात परिसंचरण समुद्र तल से 1.5 किलो मीटर ऊपर दक्षिण उत्तर प्रदेश में स्थित है।

मौसमी प्रभाव से 48 घंटे का अलर्ट

मौसम विभाग का कहना है कि 2 तरह का मौसमी सिस्टम का प्रभाव बिहार पर पड़ रहा है। इसके प्रभाव से 48 घंटे में राज्य के अनेक भागों में गरज के साथ आकाशीय बिजली गिरने की संभावना है साथ ही हल्के से मध्यम बारिश व एक दो स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान है। बिहार में दक्षिण पश्चिम में मानसून आने की अनुकूल परिस्थितियां बनी हुई हैं।

खबरें और भी हैं…

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *