संकट के बादल: एनजीटी ने आज से बालू उठाव रोका, कंस्ट्रक्शन रुकेगा; 50 हजार के रोजगार पर संकट

रांची15 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • शहर में 5 हजार से अधिक घर अधूरे पड़े हैं

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के आदेश पर बुधवार से नदी से बालू के उत्खनन पर राेक लगा दिया गया है। अगले 15 अक्टूबर तक रांची सहित राज्यभर में बालू का उत्खनन नहीं हाेगा। बालू नहीं मिलने का सीधा असर मानसून में घर का निर्माण कराने वालाें पर पड़ेगा। शहर से लेकर गांव में मानसून में ही सबसे अधिक घर का निर्माण होता है, ताकि अलग से पटवन करने की जरूरत न पड़े। बालू नहीं मिलने से सिर्फ रांची में पांच हजार से अधिक घराें का निर्माण रुकेगा।

जिन बिल्डरों के पास पहले से बालू का स्टॉक है, उन्हें ताे अधिक परेशानी नहीं हाेगी, लेकिन जिन्होंने बालू का स्टॉक नहीं किया है, उन्हें निर्माण कार्य बंद करना पड़ेगा। कुछ लोगों को चाेरी-छिपे आने वाले बालू को महंगा रेट पर खरीद कर काम करना पड़ेगा। बालू नहीं मिलने का सबसे अधिक असर निर्माण क्षेत्र से जुड़े कामगारों पर पड़ेगा। बालू ट्रक ऑनर एसोसिएशन की मानें ताे इस क्षेत्र से करीब 10 हजार व्यापारी और 50 हजार से अधिक कामगार जुड़े हुए हैं। बालू नहीं मिलने से ईंट, गिट्टी, सीमेंट, छड़ के व्यवसाय से जुड़े व्यापारी और कामगार भी प्रभावित हाेंगे।

एनजीटी के राेक से पहले बुंडू में गिरे पुल ने राेका बालू का उठाव

एनजीटी ने मानसून के आगमन काे देखते हुए बालू के उत्खनन पर राेक लगाई है। लेकिन, रांची में पिछले 10 दिनाें से बालू का उठाव बंद है। क्योंकि, यास तूफान से पिछले माह बुंडू के कांची नदी पर बना पुल गिर गया था। इसके बाद से बुंडू-साेनाहातू से बालू का उठाव पूरी तरह बंद है। यहां से राेजाना 150 हाईवा से अधिक बालू उठता है। अगर, इसे छाेटे ट्रक में बांटे ताे करीब 750 ट्रक बालू सिर्फ कांची नदी से निकलता है।

सड़क, नाली के निर्माण पर भी लगेगा ग्रहण

  • 2000 से अधिक घर बनने हैं शहर और आसपास में। क्योंकि छह माह में निगम-आरआरडीए ने 700 नक्शा पास किया है। इसमें 65 बहुमंजिले भवन का है।
  • 2000 से अधिक घर पीएम आवास याेजना के तहत ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में बनना है।
  • 1000 से अधिक निजी घर-दुकान का निर्माण शुरू हाेता इस मानसून में
  • 100 सड़क-नाली का निर्माण हाेना है शहर में, इसमें 60 प्रतिशत पीसीसी राेड-नाली बालू के बिना नहीं बनेगा।
  • 50 से अधिक सरकारी भवन का निर्माण प्रभावित हाेगा बालू की किल्लत की वजह से

खबरें और भी हैं…

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *